राशन कार्ड कैसे चेक करें | Ration Card Kaise Check Kare

राशन कार्ड बनाना जरूरी होता है, इसके लिए कोई भी भारत का नागरिक आवेदन कर सकता है। आवेदन की प्रक्रिया बहुत ही सरल है। इसको बनाना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि इसके माध्यम से लोग खाद्य सामग्री प्राप्त करते हैं। इसी महत्व तथा लाभ के कारण राशन कार्ड को जाने ना अनिवार्य है। 

आज हम इस लेख में आपको राशन कार्ड कैसे चेक करें | Ration Card Kaise Check Kare के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करेंगे तथा हम इस लेख में यह भी बताएंगे कि राशन कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें, पात्रता, योग्यता, इसके लाभ आदि महत्वपूर्ण बिंदुओं पर आपका ध्यान केंद्रित करेंगे।

राशन कार्ड क्या है ?

यह भारत सरकार द्वारा दिए जाने वाला एक महत्वपूर्ण कार्ड है। इसके माध्यम से लोगों को सरकारी दामों में खाद्यान्न प्राप्त होते हैं। इसके लिए ग्राम पंचायत के अंतर्गत सरकारी राशन की दुकान चलाई जा रही है। यह राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्य करता है। 

इसमें एक लोगों को प्रतिमाह राशन उपलब्ध करवाया जाता है। अलग-अलग श्रेणी के लोगों को अलग-अलग किलोग्राम के हिसाब से राशन प्रदान किया जाता है। यह हर राज्य में सरकार की तरफ से पब्लिक डिसटीब्यूशन सिस्टम के माध्यम से लोगों को उचित मूल्य में राशन प्राप्त होता है।

राशन कार्ड के प्रकार 

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत लोगों की आर्थिक स्थिति के अनुसार उन्हें अलग-अलग काट दिए जाते हैं। जिससे सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से राज्य के प्रत्येक नागरिक को राशन प्राप्त हो सके। राशन कार्ड के मुख्य रूप से तीन प्रकार होते हैं:-

बीपीएल राशन कार्ड:- यह राशन कार्ड गरीबी रेखा से नीचे आने वाले परिवारों को दिए जाते हैं। उन्हें प्रतिमाह 25 से 35 किलोग्राम खाद्यान्न प्रतिमाह दिया जाता है। यह कार्ड उन्हीं लोगों को प्राप्त होता है। जिनकी आर्थिक आय ₹30000 से कम होती है। 

एपीएल राशन कार्ड:- यह गरीबी रेखा से ऊपर वाले परिवारों को दिया जाता है। इसके अंतर्गत लोगों को 15 किलोग्राम खाद्यान्न प्रदान किया जाता है। यदि आपके परिवार में 5 सदस्य हैं तो उन्हें 3 किलोग्राम प्रति माह के हिसाब से राशन दिया जाएगा।

अंतोदय राशन कार्ड:- यहअति गरीबी रेखा की श्रेणी में आने वाले परिवारों को दिया जाता है। इस कार्ड का रंग पीले रंग का होता है। इसके अंतर्गत 35 किलोग्राम या इससे अधिक खाद्यान्न दिया जाता है यह खाद्यान्न की मात्रा परिवार की स्थिति तथा सदस्यों की संख्या पर निर्भर करती है।

राशन कार्ड का उद्देश्य 

भारत एक विकासशील देश है यहां की ज्यादातर आबादी गांवों में निवास करती है और ज्यादातर लोग गरीबी रेखा किस श्रेणी में आते हैं। इनके पास खाद्यान्न खरीदने के लिए पर्याप्त मात्रा में पैसे नहीं होते जिस वजह से यह भुखमरी के शिकार हो जाते हैं। 

इस राशन कार्ड का यह उद्देश्य है कि इस समस्या को दूर करने के लिए उन्हें सरकारी दाम पर खाद्य प्रदान करना है ताकि वह अपने आधारभूत आवश्यकताओं के लिए खाद्यान्न प्राप्त कर सकें। इस का यही उद्देश्य है कि एक रुपए किलो चावल तथा दो रुपए किलो गेहूं दिया जाता है जिससे व्यापारियों से शोषण से बचाया जा सके।

इतनी बड़ी आबादी वाले देश को खाद्यान्न प्रदान करना आम बात नहीं है इसीलिए प्रत्येक ग्राम पंचायत के अंतर्गत सरकारी दुकान चलाई जा रही है वहां से हम लोगों को खाद्यान्न प्राप्त हो जाते हैं।

राशन कार्ड कैसे चेक करें | Ration Card Kaise Check Kare

Ration Card Kaise Check Kare

यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है क्योंकि बिना राशन कार्ड के हमें खाद्यान्न प्राप्त नहीं होंगे। सरकार आम नागरिकों को सुविधा प्रदान करने के लिए राशन कार्ड का निर्माण करती है। इसके माध्यम से सरकारी दामों पर लोगों को खाद्यान्न प्राप्त होता है। यदि आप भी राशन कार्ड चेक करना चाहते हैं तो निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो करें जो इस प्रकार है:-

सबसे पहले आवेदक को राशन कार्ड की जानकारी के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा पोर्टल में जाना होगा।

अब आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा। 

इस पेज में Ration Card Details on State Portal का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करना है।

इसमें आपको सभी राज्यों की लिस्ट दिखाई देंगी, इसमें से आप अपने राज्य का नाम लेट क, रेंइसके बाद स्टेट पोर्टल खुल जाएगा, अब स्क्रीन पर आपको अपने राज्य के जिलों का नाम दिखाई देगा। 

आप जिस जिले में आते हैं उस पर क्लिक करेंगे जैसे ही क्लिक करेंगे तोआपके जिले का नाम सिलेक्ट हो जाएगा। 

इसके बाद विकासखंड या तहसील का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करें अपनी तहसील को सिलेक्ट कर ले। 

इसके बाद राशन दुकान की लिस्ट दिखाई देंगी, इस दुकान में आपके क्षेत्र में आने वाली राशन दुकान का नाम खोजें।

अब नीचे दिए गए राशन कार्ड के प्रकार को सेलेक्ट करें, इसमें से आपके पास जो भी राशन कार्ड का प्रकार है उस पर क्लिक करें।

क्लिक करने के पश्चात एक लिस्ट खुल जाएंगी, इस लिस्ट में आप अपना नाम देख सकते हैं। 

यदि इस लिस्ट में नाम नहीं आया है तो इसका मतलब आपका राशन कार्ड नहीं बना है यदि लिस्ट में नाम आ जाता है तो आपका राशन कार्ड बन गया है और राशन कार्ड की दुकान से आप इसे प्राप्त कर सकते हैं।

इस तरह से आप राशन कार्ड चेक कर सकते हैं।

राशन कार्ड बनाने के लिए पात्रता 

आवेदन भारत का नागरिक होना चाहिए। 

आवेदक के पास अन्य राज्य का राशन कार्ड नहीं होना चाहिए। 

आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। 

आवेदक की परिवार में केवल एक ही राशन कार्ड दिया जाएगा। 

आवेदक के पास मूल निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए। 

आवेदक के पास आय प्रमाण पत्र होना चाहिए।

राशन कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • पासपोर्ट साइज का फोटो
  • वोटर आईडी
  • आधार कार्ड 
  • पैन कार्ड 
  • मोबाइल नंबर 
  • मूल निवास प्रमाण पत्र 
  • बिजली या पानी का बिल
  • परिवार में सदस्यों की संख्या 
  • आय प्रमाण पत्र

राशन कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें ?

यदि आपके पास राशन कार्ड नहीं है और आप राशन कार्ड बनवाना चाहते हैं तो बढ़ा सकते हैं क्योंकि इसके लिए बहुत ही आसान सी प्रक्रिया पूरी करनी होती है। इसके लिए आपको निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो करने होंगे जो इस प्रकार है:- 

सबसे पहले आवेदक को इसकी ऑफिशियल वेबसाइट में जाना होगा। 

अब आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा। 

इस पेज में डाउनलोड फॉर्म का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करें। 

फॉर्म को डाउनलोड करने के पश्चात आपसे कुछ जानकारी पूछे जाएंगे जैसे नाम, परिवार में सदस्यों की संख्या, स्थाई पता, आधार नंबर, पैन कार्ड नंबर आदि सारी जानकारी को उचित तरीके से भर दें।  

इसके बाद आपको आवश्यक दस्तावेज अटैच करने होंगे। 

पुनः एक बार आवेदन फॉर्म तथा दस्तावेजों को पढ़ ले और इस फॉर्म को तहसील के खाद्य एवं रसद विभाग में जमा कर दें। 

जमा करने के बाद आपके पास और दस्तावेज को सत्यापित किया जाएगा। 

इसके बाद जिस क्षेत्र में रहते हैं उस क्षेत्र की ग्राम पंचायत में स्थित सार्वजनिक वितरण प्रणाली की सरकारी दुकान में आपको राशन कार्ड जारी कर दिया जाएगा। 

इस तरह से आप बड़े आसानी से राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।

राशन कार्ड के फायदे 

इसका सबसे अच्छा फायदा यह है कि कम दामों पर लोगों को खाद्यान्न प्राप्त हो जाता है इसमें एक रुपए किलो चावल और दो रुपए किलो गेहूं प्राप्त होता है। 

यदि इसे बाजार से खरीदा जाता है तो लगभग 50 से ₹60 किलो चावल और 20 से ₹25 किलो गेहूं प्राप्त होता है इतने महंगे खाद्यान्न को गरीबी रेखा में आने वाले लोग नहीं खरीद पाते हैं। 

इसके अंतर्गत लोगों की आय के अनुसार राशन कार्ड को तीन भागों में बांटा गया है जिसे अलग-अलग लोगों को अलग-अलग दामों पर खाद्यान्न दिया जाता है। 

हर पंचायत में इससे संबंधित सरकारी दुकान उपलब्ध करवाई गई है इससे भारत में कुपोषण जैसी गंभीर समस्या को दूर किया जा सकता है। 

गरीबी रेखा की श्रेणी में आने वाले लोगों को सस्ते दामों में खाद्यान्न प्राप्त हो जाते हैं इसके साथ उन्हें दाल, शक्कर, माचिस, नमक आदि सामग्री भी प्राप्त होती है।

इसका यह भी फायदा है कि लोग अपनी आर्थिक स्थिति बेहतर बना पाएंगे लोगों की आवश्यकताओं की पूर्ति सस्ते दामों में मिलने वाले खाद्यान्न से हो पाएंगे। 

लोग जो खाद्यान्न में पैसा लगाते थे अब वह अपने बच्चों की शिक्षा में पैसा लगाएंगे। 

इससे लोगों का स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं अच्छी होगी।

आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे। इस लेख का उद्देश्य राशन कार्ड कैसे चेक करें | Ration Card Kaise Check Kare के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करना है। लगभग हमने राशन कार्ड से संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध करवा दी है। इसी के साथ हमने राशन कार्ड के प्रकारों के बारे में भी बताया है। यदि आपके पास राशन कार्ड नहीं है तो अवश्य बनाएं ताकि सरकारी सुविधाओं का लाभ आपको भी प्राप्त हो सके यदि यह लेख आपको पसंद आता है तो अपने परिवार तथा दोस्तों के साथ अवश्य साझा करें ताकि वह भी राशन कार्ड से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकें।

Leave a Comment