पीएफ क्या होता है? इसके फायदे तथा इसके नियम क्या है पाए पूरी जानकारी

हर किसी को अपने भविष्य की चिंता होती है, उन्हें जब बुढ़ापे में पैसे की आवश्यकता होती है तो किसी और के आगे हाथ फैलाने की जरूरत नहीं होती है, इसलिए जो भी सरकारी कर्मचारी होते हैं। उनके तनखा में से PF काटा जाता है। यह एक महत्वपूर्ण योजना है। इससे कर्मचारियों को उनकी तनखा का पैसा पेंशन के रूप में दिया जाता है।

आज हम इस लेख में PF क्या होता है तथा PF से जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण जानकारी आपके साथ साझा करेंगे। इसी के साथ पीएफ अकाउंट से कैसे कटता है। इसके बारे में भी जानकारी प्रदान करेंगे तो आइए शुरू करते हैं:

पीएफ क्या होता है – PF kya hota hai

PF kya hota hai

जैसा कि हम सब जानते हैं जब कोई भी कर्मचारी किसी भी संस्थान में लंबे समय तक कार्य करता है तो कंपनी के द्वारा उसका कुछ पैसा काट लिया जाता है। जिसे बाद में पेंशन के रूप में वापस किया जाता है। इस जमा किए हुए पैसों को पीएफ कहते हैं। PF का पूरा नाम Provident Fund है, इसे EPF भी कहते हैं जिसका पूरा नाम Employee Provident Fund होता है, इसे हिंदी में कर्मचारी भविष्य निधि कहते हैं।

इसे एक योजना के द्वारा संचालित किया जाता है इसके लिए एक संगठन भी बनाया गया है जिसका नाम EPFO है इसका पूरा नाम Employee Provident Fund Organizationहै। इस पीएफ की पूरी देखरेख इसी के माध्यम से की जाती है। यह एक महत्वपूर्ण संस्थान है इसकी शाखाएं हर प्रदेश में पाई जाती है परंतु इसका मुख्यालय दिल्ली में है।

सरकार वर्तमान कार्य रहित में कर्मचारियों को पेंशन की सुविधा बंद कर दी है परंतु उन्हें अपनी तनखा में से पीएफ देना पड़ता है क्योंकि बाद में सरकार उन्हें एक साथ पैसा दे देती है। जिनका इस्तेमाल वह कई प्रकार के कार्यों में कर सकते हैं। सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना है।

PF Full Form in Hindi

PF Full FormProvident Fund / Employee Provident Fund
पीएफ का फुल फॉर्मभविष्य निधि / कर्मचारी भविष्य निधि

पीएफ का मतलब क्या होता है? PF Meaning in Hindi

PF का पूरा नाम Provident Fund है, इसे EPF भी कहते हैं जिसका पूरा नाम Employee Provident Fund होता है, इसे हिंदी में कर्मचारी भविष्य निधि कहते हैं।

पीएफ के फायदे

पीएम के फायदे निम्नलिखित है जो इस प्रकार है:-

  • UAN का पूरा नाम यूनिवर्सल अकाउंट नंबर है।
  • पीएम के माध्यम से जमा धनराशि पर किसी प्रकार की ब्याज दर नहीं लगेगी।
  • यह अकाउंट में जमा राशि पर सरकारी ब्याज दर पर सरकार आपको 8% या इससे अधिक ब्याज दर प्रदान करती है।
  • रिटायरमेंट के बाद आपको पूरा पैसा मिल जाता है।
  • नौकरी छोड़ने के 2 महीने बाद भी पूरा पैसा निकाल सकते हैं।
  • आप चाहे तो अनिवार्य आवश्यकताओं पर ही पैसा निकाल सकते हैं।
  • 10 साल से कम नौकरी होने पर पेंशन का पैसा भी निकाल सकते हैं।

पीएफ कैसे कटता है?

कोई भी संस्थान या कंपनी कर्मचारियों का ज्यादा PF नहीं काटती है। यहां तक कि उन्हें केवल आवश्यकता अनुसार ही पीएफ देने का प्रावधान होता है। इसमें कर्मचारी अपनी तनखा में से केवल 12% ही पीएफ के रूप में कंपनी के पास जमा करता है। यह 12% दो भागों में बट जाता है। पहले भाग में 8.3% की रकम कर्मचारी पेंशन के अकाउंट में जमा हो जाती है तथा दूसरे भाग में 3.67% की रकम ईपीएफ के रूप में अकाउंट में जमा हो जाती हैं। इस तरह से कर्मचारियों को केवल 12% की रकम ही जमा करनी होती है।

नौकरी छोड़ने के कितने दिन बाद पीएफ निकाल सकते हैं?

यदि आप किसी कंपनी से नौकरी छोड़ रहे हैं तो आपको पीएफ का फायदा प्राप्त होगा। इसके लिए आप नौकरी छोड़ने के 60 दिन की अवधि में पीएफ के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपना मोबाइल नंबर बैंक खाता देना होगा परंतु पीएफ जब ही बनता है। जब आप 1 वर्ष से अधिक की नौकरी कर चुके हैं यदि और कम समय के लिए नौकरी कर रहे हैं तो आपका PF बनेगा।

पीएफ अकाउंट के नियम कौन-कौन से हैं?

  • आपके सैलरी में से 12% वेतन कट जाएंगी। यह कंपनी में जमा हो जाएंगे।
  • आपके पास पैन कार्ड नंबर होना चाहिए।
  • आवेदक भारत का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक किसी भी संस्था में कार्यरत होना चाहिए।
  • पीएफ अकाउंट को आधार नंबर से लिंक कराना अनिवार्य है नहीं तो किसी प्रकार का ट्रांजैक्शन नहीं हो पाएगा।

पीएफ कैसे चेक करते हैं?

Mixed Call से जानकारी प्राप्त करना:- यदि आपके पीएफ अकाउंट से मोबाइल नंबर लिंक है तो आप बड़े आसानी से पीएफ बैलेंस की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सबसे पहले इस नंबर 011-22901406 पर आपको मिस्ड कॉल करना होगा। उसके तुरंत बाद ही रजिस्टर नंबर पर एक मैसेज आएगा।  इस मैसेज मेंपीएफ बैलेंस की जानकारी होगी।

SMS के माध्यम से पीएफ बैलेंस चेक करना:- जब आप अपना UAN नंबर EPFO के साथ रजिस्टर करते हैं तो इसमें आपको एक रजिस्टर मोबाइल नंबर दर्ज करना पड़ता है। इसमें एक हेल्पलाइन SMS नंबर होता है जो यह है इस नंबर 7738299899 पर आपको EPFOHO UAN HIN नंबर मैसेज कर देना है। कुछ देर बाद आपके पास मैसेज आएगा। जिसमें पीएफ बैलेंस दिखाई देगा।

Mobile App के माध्यम से पीएफ बैलेंस चेक करना:- सबसे पहले आपको उमंग ऐप डाउनलोड कर लेना है इसमें अपना रजिस्टर फोन नंबर के माध्यम से लॉगिन कर लेना है। इसके बाद आपके सामने सर्विस डायरेक्टरी का विकल्प दिखाई देगा। उस पर क्लिक करें जैसे ही क्लिक करेंगे तो ईपीएफओ का विकल्प दिखाई देगा। उस पर क्लिक करें, उसमें आप E Passbook का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करना है। उसके बाद उसमें यूएएन नंबर  तथा मोबाइल नंबर डाल देना है। अब आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा, इस OTP के माध्यम से ही आपको। पीएफ बैलेंस की जानकारी प्राप्त होगी।

EPFO की वेबसाइट से पीएफ बैलेंस चेक करना:- सबसे पहले आपको इसकी ऑफिशियल वेबसाइट में जाना है फिर e-passbook के विकल्प पर क्लिक करना है। इसमें आप अपना User Name या यूएएन नंबर डाल देना है। अब आपको नीचे दिए गए कि कैप्चा भर देना है। सारी डिटेल भरने के बाद मेंबर आईडी का चुनाव करना है। इसके बाद ईपासबुक पर आपका पीएफ बैलेंस दिख जाएगा।

PF से जुड़े FAQ’s

पीएफ बैलेंस कितने दिन में आता है?

पीएफ बैलेंस 3 से 7 दिन के अंदर में आपके अकाउंट में आ जाएगा।

ऑनलाइन पीएफ कितने दिन में निकलता है?

यदि आपने पीएफ निकालने के लिए आवेदन किया है तो ऑनलाइन पीएफ आपके अकाउंट में 5 से 10 दिन के अंदर में ट्रांसफर हो जाता है।

आज आपने क्या सिखा

आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे। इस लेख का उद्देश्य PF Kya Hota hai तथा पीएफ के बारे में जानकारी प्रदान करना है जैसा कि हर कोई अपने भविष्य को सुरक्षित करने के लिए धन इकट्ठा करते रहते हैं। उसी तरह से पीएफ भी है हमने इस लेख में आपको पीएफ से संबंधित लगभग सारी जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आपको यह जानकारी पर पसंद आती है तो अपने परिवार तथा दोस्तों के साथ अवश्य साझा करें।

Leave a Comment