खेल कितने प्रकार के होते है | Khel Kitne Prakar Ke Hote Hain

खेल – जिनके बिना आपकी जिंदगी और आपकी Fitness दोनों अधूरी है। Games वो Physical and Mental Activity है जो आपको Entertain करते है। आपको स्वास्थय को बेहतर करते है। नियमित खेल Players के सर्वांगीण विकास जैसे मानसिक, शारीरिक और बौद्धिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। 

खेलना एक बच्चे की स्वाभाविक क्रिया है। अलग-अलग उम्र के बच्चे अलग-अलग तरह के खेल खेलते है। ये विभिन्न प्रकार के खेल बच्चों के पूर्ण विकास में सहायक होते है। 

आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की खेल कितने प्रकार के होते है | khel kitne prakar ke hote hain ताकि आपको खेल के प्रकार से जुड़े सभी तथ्यों की जानकारी हो सके.

आइए अब देखते है कि खेल कितने प्रकार के होते है?

खेल कितने प्रकार के होते है | khel kitne prakar ke hote hain

khel kitne prakar ke hote hain

खेल Normally कई प्रकार के होते है।

आमतौर पर हिंदी भाषा में सभी तरह के खेलों को खेल ही कहा जाता है लेकिन English भाषा में हम खेलों के लिए 2 शब्दों का प्रयोग करते है- Games and Sports। आइए सबसे पहले तो Games and Sports दोनों में Difference समझते है।

Games और Sports

मुख्यत: खेलों को शारीरिक और मानसिक खेलों के तौर पर Divide किया जा सकता है। शारीरिक क्षमताओं का प्रदर्शन करने वाले खेलों को शारीरिक खेल (Sports) कहा जाता है और मानसिक क्षमताओं का प्रदर्शन करने वाले खेलों को मानसिक खेल (Games) कहते है। Games में Mentally और Physically दोनों तरह की Activities शामिल होती है जबकि Sports में Physical Activities का ज्यादा Role होता है।

Games and Sports को कई Categories में divide किया जा सकता है।

  • Individual / Dual / Team Sports
  • Indoor / Outdoor Games
  • Screen / Mobile Games
  • Rule / Free Games 
  • Cool / Calm Games
  • Sensory-Action Games
  • Symbolic Games
  • Structural Games
  • National / International Games

एकल / वैयक्क्तक खेल (Individual Sports) 

जो Sports अकेले खेले जाते है उन्हें Individual sports कहते है जैसे- Swimming etc.।

द्वि-वैयक्क्तक खेल (Dual Sports)  

जो Sports दो लोगों के बीच में खेले जाते है उन्हें Dual Sports कहते है जैसे- Badminton, Table Tennis, Lawn Tennis etc.।

सामूहिक खेल (Team Sports) 

जो Sports दो Teams के बीच खेले जाते है उन्हें Team Sports कहते है जैसे- Cricket, Hockey, Football etc.।

भीतरी खेल (Indoor Games)  

जो Games घर, School या किसी भी Building के अंदर खेले जाते है उन्हें Indoor Games कहते है। जैसे -: I spy, Hide-and-seek, Musical chairs, Treasure hunt, Damsharas, Scrabble। Boggle, Pictionary, ludo, Carrom, Snakes and Ladder etc.

बाहरी खेल (Outdoor Games)  

जो Games घर, School या किसी भी Building के अंदर नहीं बल्कि बाहर खेले जाते है उन्हें Outdoor Games कहते है जैसे-: Volleyball, Athletics, Basketball, Kabaddi, kho-kho etc.  

संरचनात्मक खेल (Structural games)  

ऐसे खेल जिन्हें खेलते-खेलते कुछ नया सीखने को भी मिलता है। जिन्हें बच्चे अपनी मर्जी से नहीं खेलते बल्कि उन्हें नियमों के अनुसार खिलाया जाता है। जैसे बच्चों को अगर बोला जाए कि चलो बाहर चलकर मिट्टी से कुछ बर्तन बनाते है तो इसे संरचनात्मक या Structural game कहते है।

काल्पनिक खेल (Fantasy sports) 

Real Games की तर्ज पर ही खेले जाने वाले काल्पनिक खेल। मतलब Online वास्तविक खिलाड़ियों के आधार पर काल्पनिक Team बनाकर खेलना जैसे MPL, Dream11, Rummy Circle etc.।  

नियमबद्ध खेल (Rule games)  

जो Games Proper Rules and Regulations के साथ खेले जाते है उन्हें नियमबद्ध या Rule Games कहते है। 

मुक्त खेल (Free Games)  

जो Games बिना किसी Rules and Regulations के खेले जाते है जैसे एक बच्चा अपने आप मिट्टी में या अपने खिलौनों से बिना किसी की परवाह किए खेलता रहता है उन्हें मुक्त या Free Games कहते है। 

संवेदी-क्रियात्मक (Sensory-Action Games) 

ऐसे Games जिन्हें खेलने के लिए  हमें अपने Senses (See, Hear, Smell, Taste, Feel) की ज्यादा जरूरत पड़ती है उन्हें संवेदी-क्रियात्मक या Sensory-Action Games कहते है। जैसे Taste करके या Touch करके किसी चीज को बताना।

प्रतीकात्मक खेल (symbolic Games) 

जब बच्चे या बड़े खेल-खेल में अलग-अलग लोगों की भूमिका निभाने का नाटक करते है जैसे Doctor, Teacher, Lawyer etc. तो ऐसे Games को प्रतीकात्मक या Symbolic Games कहते है। Delhi में Kidzania Game Zone इसी पर Based है।  

ओजस्वी खेल (Cool Games) 

जब बच्चे खेलने के लिए इधर-उधर भागते है, बहुत उछल-कूद करते है मतलब ऐसे खेल खेलते है जिनमें Energy अधिक लगती है उन्हें ओजस्वी या Cool Games कहते है जैसे पकड़म-पकड़ाई, चोर-सिपाही, पिट्टठू आदि।  

शान्त खेल (Calm Games)  

ऐसे खेल जिन्हें खेलने में ज्यादा शारीरिक उर्जा नहीं लगती बल्कि शांति से बैठ कर खेले जाते है इन्हें शांत या Calm Games कहते है जैसे पेंटिंग बनाना,  जमीन पर चौक से कुछ लिखना, पत्थर के टुकड़ों से या मिट्टी से घर बनाना आदि।

आज इस High Tech World में Games की एक और नई Category “Screen Games” Develop हो गई है जिससे बच्चों से लेकर बड़ों तक कोई भी अछूता नहीं है।

Screen। Mobile Games 

Net Games

Target Games

Video Games

Invasion Games

Fielding & Striking Games

Types of video games

Action games

Action-adventure games

Adventure games

Role-playing games

Simulation games

Strategy games

Sports games

Puzzle games

National Games 

जो Games अपने देश में ही खेले जाते है उन्हें National Games कहते है। इनमें एक ही देश के Different States की Different Teams Participants होती है।

International Games

जिन Games में एक नहीं बल्कि कई देश Participate करते है उन्हें International Games कहते है जैसे: World Cup, Olympics, Paralympics, IPL etc.।

Olympics Games

Paralympics Games

ओलंपिक और पैरालंपिक Sports दोनों हर चार साल में दो Parts में होते है। 

Summer Olympics / Winter Olympics

Summer Paralympic / Winter Paralympic

Games and Sports – वो Activities है जिसमें आपकी Skills, Knowledge or luck सब Important होते है। आपको Rules Follow करने होते है और दूसरी Team या Partner से जीतना होता है। 

दुनिया का सबसे लोकप्रिय खेल

Cricket के पीछे तो लोगों की दिवानगी ना केवल India में बल्कि सारे विश्व में जग जाहिर है। Cricketers के जितना Name and Fame किसी भी अन्य Sports में नहीं है। हर एक Cricketer को World का बच्चा बच्चा जानता है।

भारत का सबसे पुराना खेल

भारत का सबसे पुराना खेल मल्लयुद्ध है। इसकी शुरुआत लगभग 5 हज़ार साल पहले की मानी जाती है। हिन्दू धर्म के देवताओं को ही इस खेल का जनक माना जाता है।

खेलों का महत्त्व

  • Games हमारा Confidence बढ़ाते है। 
  • Social Skills Develop होती है।
  • Games शारीरिक, मानसिक और बौद्धिक विकास में सहायक होते है।
  • Game Players में Team Spirit और competitive spirit Develop होती है।
  • Games and sports बहुत अच्छे Stress Reliever होते है।
  • Games Immunity Booster का काम करते है।
  • Regular Games हमें Active और Healthy रखते है। Games हमें कई रोगों से सुरक्षित करने में मदद करता है जैसे – गठिया, मोटापा, हृदय की समस्याओं, मधुमेह।

सन 2014 से 6 April को हर साल International Sports Day मनाया जाता है। 1928 में India के Hockey World Cup और उसके बाद Olympic में Gold Medal जीतने के बाद से Hockey की लोकप्रियता ऐसी बढ़ी कि इसे India का National Game माना गया। 

Games and sports हमारे स्वस्थ जीवन की आवश्यकता है जो आज लोगों को बहुत अच्छे से समझ आ गया है। 

पहले कहा जाता था पढ़ोगे लिखोगे, बनोगें नवाब, खेलोगे कूदोग, बानोगें खराब। लेकिन आज यह परिभाषा बदल गईं है। आज पढ़ाई के साथ साथ Games and Sports की भी उतनी ही Value है। 

Covid के बाद लोगों को और भी बेहतर समझ आ गया है कि सेहत बहुत ज़रूरी है और Games and Sports हमारी अच्छी सेहत बनाने में बहुत मददगार होते है। अच्छी सेहत के लिए Regular Gym जाना कभी-कभी Boring हो सकता है लेकिन दोस्तों के साथ Games खेलना कभी भी Boring नहीं होता।

हमें उम्मीद है आपको हमारा ये आर्टिकल खेल कितने प्रकार के होते है | khel kitne prakar ke hote hain ज़रूर पसंद आया होगा. आपको कौन सा खेल खेलना सबसे अच्छा लगता है हमें Comment करके ज़रूर बताइएगा।

Leave a Comment