International SEO क्या है और कैसे करे – Hindi

अगर आप किसी International Country या Languages में Search Engines में Rank करना चाहते है तो आपको International SEO के बारे में जानना बहुत ज़रूरी है.

इस Article में हम आपको International SEO क्या है और कैसे करे ये सिखायंगे ताकि आप अपने Website का International SEO सही तरीके से कर सके. अगर आपने International SEO पर ध्यान नही दिया तो search engine में ranking मुश्किल है.

इसलिए हम आपको कुछ International SEO Techniques Hindi में बतांगे जिनका यूज़ करके आप अपने Website पर International Visitors Attract कर पायंगे. चलिए अब देखते है की International SEO क्या है.

International SEO क्या है – What is International SEO in Hindi

International SEO Website Optimization की ऐसी Technique है जिसकी मदद से हम Search Engines को ये बताते है की हम किस Country में Rank करना चाहते है और हमने कौन सी Language में Content लिखा है.

या

International SEO की मदद से हम अपने Website को इस प्रकार Organize और Optimize करते है ताकि हम Search Results में किसी Specific Country और Language में Rank करे. इसके लिए हम Geo-Targeting, hreflang Tags और बाकी Localization signals को Optimize करते है.

International SEO होता है Hindi में सिखा, चलिए अब जानते है की क्या International SEO करने की ज़रूरत क्या है

International SEO करने की ज़रूरत क्या है? – Need of International SEO

अगर आपकी Website पर किसी Specific Country से अच्छा ख़ासा Traffic आ रहा है तो आपको उस Country के हिसाब से अपनी Website में कुछ बदलाव करने होंगे ताकि आप उस Country में और अच्छा Perform कर पाए.

अगर आप कोई ऐसी Website बनाना चाहते है जिसकी मदद से आप किसी ख़ास Country और Language को Target करेंगे तो आपको अपने Website का International SEO करने की ज़रूरत पड़ेगी. चलिए अब देखते है International SEO कैसे करे.

International SEO कैसे करे?

International SEO Website के Content को Translate करना ही नही है बल्कि Website का International SEO करने के लिए बहुत से Factors पर काम करना पड़ेगा. यहाँ हम आपको Best International SEO Techniques Hindi में बताएँगे इन International SEO Strategy यूज़ करके आप अपनी Website का International SEO कर पायंगे.

चलिए अब International SEO Checklist Hindi में देखते है.

किसी specific Country को कैसे Target करे – International SEO Checklist

किसी specific Country को Target करने के लिए आप निम्नलिखित International SEO Checklist को Follow कर सकते है,

  • country-specific domain का यूज़ करे.
  • Google Search Console में Targeting Location Specify करे.
  • Google My Business में अपने Business Address को Register करे.
  • अपने Website में अपना Address ज़रूर लिखे.
  • अपने Website को Local Servers पर Host करे. (Targeting Location Hosting Companies)
  • उन Websites पर Backlinks बनाये जो Same Country को Target करती है.
  • Website में Targeting Country की Local Language का यूज़ करे.

अभी हमने International SEO Checklist जाने अब International SEO best practices को Detail में समझते है

International SEO Best Practices

#1 Market Research करे

किसी Country को Target करने से पहले उसकी Market Research ज़रूर करे ताकि आपको अपनी SEO Strategy बनाने में आसानी हो. Market Research करने पर आपको निम्नलिखित बातो का पता चलेगा.

अभी आपकी वेबसाइट का Organic Search का Status क्या है

आपकी Website पर International Organic Search Traffic कितना आता है ये समझना International SEO का पहला स्टेप है. Research करते समय हमें निम्नलिखित Points को समझना है.

  • हमें कौन से Country से Organic Search Visibility और Traffic मिल रहा है.
  • किस Country और language से हमें कितना Search Volume और Organic Search Visibility मिल रही है और समय के साथ उसका Trend कितना है.
  • कौन से Pages और Keywords पर Search Visibility मिल रही है.
  • Targeted Country में हमारे वेबसाइट का Organic Search CTR और Conversion Rate कितना है.
International Organic Search का Potential कितना है

आपकी वेबसाइट का International Organic Search का Status पता करने के बाद हमें ये पता करना है की Top Search Countries में International Organic Search का Potential कितना है.

Keyword Research की मदद से हम International Organic Search का Potential जान सकते है.

  • आप अपने Business, Product या Service से related Keywords के Relevant keywords और phrases ढूंढे.
  • इन Keywords का Organic search volume पता करे.
  • इन Keywords पर Ranking Competition (Keyword Difficulty) Check करे.
  • इन Keywords पर आपकी Current Ranking क्या है.

#2 Website का URL Structure International SEO Friendly बनाये

URL Structure की मदद से हम तीन तरीको से Website का International SEO कर सकते है और किसी Country को Target कर सकते है.

ccTLDs – Country Code Top-Level Domain

ccTLDs - International SEO Hindi

हर Country के लिए Website Domain का Extension अलग होता है जैसे India के लिए .in पाकिस्तान के लिए .pk और United States के लिए .us का प्रयोग होता है.

अगर आप अपनी Website को किसी ख़ास Country में Rank करवाना चाहते है तो Domain लेते समय Domain Extension का ख़ास ख्याल रखे. सभी Search Engines ccTLDs – Country Code Top-Level Domain को Search Result में प्राथमिकता देते है. आप यहाँ से country code top-level domains की लिस्ट देख सकते है.

ccTLDs Domains यूज़ करने के फायदे: Country Code के अनुसार Domain को यूज़ करने से Search Engines को Powerful Signal जाता है क्युकी ये Website का International SEO करने का सबसे Important Factor है. इससे Website के Visitors में Trust बनता है और उन्हें लगता है की Website उनके Country के लिए ही बनायीं गई है.

ccTLDs Domains यूज़ करने के नुक्सान: अलग अलग Country के लिए अलग अलग Website बनाना बहुत Costly और time Consuming हो सकता है और छोटे Businesses इसे Afford नही कर सकते.

Examples:

www.google.co.in [India]

www.google.co.uk [United Kingdom]

www.google.co.jp [Japan]

www.google.es [Spain]

www.amazon.in [India]

Sub-Directories

subdirectory - International SEO Hindi

Subdirectory Structure बनाने के लिए आपको अपनी Website के Folder में उस Country के ISO Code के Letters के नाम का Folder बनाना होगा.

Example:

अगर आप अपना Content Japan के लिए बना रहे है तो आपको example.com/jp ऐसे अपना Subdirectory बनाना होगा.

Sub-Directories यूज़ करने के फायदे: Subdirectory Structure को Setup और Maintain करना आसान है. Website में Subdirectory Add करना Simple और सस्ता है. यहाँ आपको केवल एक Domain लेना है.

Sub-Directories यूज़ करने के नुक्सान: अगर international SEO signal की बात करे तो ये ccTLDs Domains की तुलना में कमज़ोर और कम Effective है. क्युकी ccTLDs Domains में पूरी Website केवल एक Country के लिए ही Dedicated होती है.

Sub-Domains

sub-domain - International SEO Hindi

यहाँ हम अपनी Website के Country wise Sub Domains बनाते है हालांकि international SEO करने के लिए Subdomain का यूज़ करना उतना effective नही है क्युकी ये Dedicated Country domain की तुलना में Weaker international SEO signal देता है. इस तरीके में Main Website की Authority भी Sub domain को Pass नही होती.

#3 Language Target करने के लिए Hreflang Tags का यूज़ करे

Multiple Language वाली Websites में कुछ Snippets Code “Hreflang tags ” का यूज़ करते है. जिसकी मदद से Search Engines Website के Content को सही तरीके से Rank कर पाते है.

अगर आपने अपनी Website में English और Hindi में Content लिखा है और आप Hreflang tags का यूज़ करके Website को Language base पर SEO कर रखा है तो English में पढने वाले Visitor को English Content दिखेगा और Hindi पढने वाले Visitor को हिंदी में.

Hreflang Tags Example

अब आप सोच रहे होंगे की Search Engine को क्या पता की Visitor Hindi Content ढूंड रहा है या English. Google Algorithms का यूज़ करके यह पता लगता है की Visitor को क्या Result दिखाना है ऐसे में अगर आपने अपनी Website में Hreflang tags यूज़ किया है तो Google अपने विजिटर को उसकी language में Content दिखता है.

आप अपनी Website में तीन जगहों पर hreflang tags यूज़ कर सकते है.

  1. Source Code – सभी Pages के Header में (most popular)
  2. सभी Pages के Header में
  3. Sitemap में

hreflang tags लगते समय ये ज़रूर ध्यान रखे की जो भी Method आपको Easy लगता है उसी का यूज़ करे और इनमे से केवल एक Method का ही यूज़ करे.

#4 Search Engine को Preferences देना

भारत में ज्यादातर लोग कुछ भी Search करने के लिए Google का यूज़ करते है लेकिन दुनिया में बहुत से देशो में लोग दुसरे Search Engines भी यूज़ करते है. जैसे China में सबसे ज्यादा Baidu Search Engine का यूज़ करते है. कुछ देश Yenda या Duckduckgo का यूज़ करते है.

Search Engine Preferences
Source: http://gs.statcounter.com/

ऐसे में हमें किसी Country का International SEO करने से पहले ये जान लेना चाहिए की वहा कौन सा Search Engine ज्यादा पोपुलर है और उसकी Policies क्या है और उसके Seo Ranking के Rules क्या है उसी हिसाब से Website का International SEO करे.

#5 Website को Content को User Device के आधार पर Target करना

अलग अलग देशो में लोग अलग अलग Devices जैसे Mobile, Laptop, Desktop आदि का यूज़ करते है. इसलिए हमेशा Website और Content को Responsive बनाये ताकि वो किसी भी Device में Adjust हो सके और यूजर एक्सपीरियंस अच्छा हो.

Content to Fit Device Preferences
Source: http://gs.statcounter.com/

#6 Local Signals का यूज़ करे

आप geo-targeting signals का यूज़ करके International SEO को और बेहतर बना सकते है. आप किसी Country या Language का International SEO करने के लिए निम्नलिखित Strategy Follow कर सकते है.

  • Local Social Media पर अपना Profile बनाइए.
  • अपने Prices को Local Currency में Show करे.
  • अपने Website में अपने Local Office का Location Address और Phone Number ज़रूर लिखे.

अगर आप किसी Country या Language को Target करके इंटरनेशनल seo करना चाहते है तो आपको वहा के Colors, Designs, Content और Culture को समझना होगा.

#7 Local listings को optimize करे

जिस देश में आप Website को Promote करना चाहते है वहा आपको अपनी Website की Local Listing करनी होगी. इसके लिए आप Business Listing Websites का यूज़ कर सकते है.

आपको उस देश की Local Listing Websites पर अपने Business को List करना होगा.

#8 International link building करे

Link Building website के SEO का अहम् हिस्सा है जिसे हम Ignore नही कर सकते. Link Building की मदद से आप अपनी Website का Domain Authority बढ़ा सकते है जो Website की Ranking का एक Major Factor है.

इससे Search Engine में आपकी Visiblity बढ़ेगी जिससे आपकी Website में Traffic बढेगा.

#9 Schema Markup का यूज़ करे

Schema Markup का यूज़ करके आप Search Engines को Indicate कर सकते है की आपकी Website किस बारे में है. Schema Markup को लगभग सभी Search Engines Support करती है.

#10 Search Console

Search Console Google का Webmaster tool है इसकी मदद से आप Website के सभी Errors को Check कर सकते है और वेबसाइट की Performance चेक कर सकते है.

यहाँ आपको Website को Submit करना है इसके बाद Targeted Location और Language Add करना है. अगर कोई भी Error या Problem आती है तो आप यहाँ से चेक कर सकते है.

सभी Search Engines के अपने अपने Webmaster Tools होते है आप अपनी ज़रूरत के हिसाब से इनका यूज़ कर सकते है.

#11 Google My Business and Bing Places

अपने Business और Website को Google My Business and Bing Places पर List करना न भूले ये Search Engines को बहुत Strong Local Signals भेजते है. Website का International SEO करने के लिए इनका यूज़ ज़रूर करे.

#12 International Keyword Research

Website के SEO में Keyword एक Major Factor है ऐसे में Website का International SEO करने के लिए International Keyword Research करना बहुत ज़रूरी है ताकि आप सही Keywords को टारगेट कर सके.

आज आपने क्या सिखा

हमें उम्मीद है आपको हमारा ये आर्टिकल International SEO क्या है और कैसे करे ज़रूर पसंद आया होगा. यहाँ हमने International SEO Techniques Hindi में जाना. यहाँ हमने International SEO कैसे करे ये भी सिखाया है.

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया है तो कृपया हमें Comments में बताये. अगर आपके पास इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई सुझाव या सन्देश है तो वो भी आप हमसे साझा कर सकते है. आपकी राय जानकार हमें बहुत अच्छा लगेगा.

कृपया हमारा आर्टिकल Social Media जैसे Facebook, Instagram, WhatsApp पर Share ज़रूर करे. इससे हमें ऐसे ही Informative आर्टिकल्स लिखने की प्रेरणा मिलती है.

Leave a Comment