बैंक में खाता कैसे खोलें? Bank me khata kaise khole in hindi

Bank me khata kaise khole in hindi:- वर्तमान में हर व्यक्ति के पास अपना बैंक अकाउंट होना जरूरी है।  लेकिन बहुत लोग ऐसे भी हैं जिनको नहीं पता कि  बैंक में खाता कैसे खोलें?

बैंक में खाता खोलने से लोगों को बहुत सारी सुविधाएं प्राप्त होती है। अगर आप चाहे तो घर पर बैठकर ऑनलाइन भी अपना खाता खुलवा सकते हैं। बैंक में खाता खुलवाना बहुत ही आसान है और इस प्रोसेस में बहुत कम समय लगता है। 

यदि आपको जानकारी नहीं है, कि बैंक में खाता कैसे खोलें? | Bank me khata kaise khole in hindi तो इस लेख में आपको बैंक में खाता कैसे खोलें? बैंक खाते के प्रकार? बैंक में खाता कैसे खोलते हैं? बैंक में खाता खोलने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट? मोबाइल से बैंक में खाता कैसे खोलें? इससे संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

Bank me khata kaise khole in hindi

बैंक खाता क्या होता है? – What is Bank Account in Hindi

बैंक वह स्थान होता है, जहां पर जनता का पैसा जमा किया जाता है तथा उनको ऋण दिया जाता है। व्यक्ति अपने बचत राशि को सुरक्षा प्रदान करने के लिए उसे बैंक में जमा करवा देता है। 

बैंक में से कभी भी पैसा निकाला या जमा करवाया जा सकता है। बैंक उस जमा राशि पर ब्याज भी प्रदान करता है। बैंक जमा की गई राशि को व्यापारियों को प्रदान करते हैं और ब्याज कमाते हैं। 

राशि जमा करने और ऋण देने के अतिरिक्त बैंक और भी कार्य करती है। 

  • बैंक में आभूषण को सुरक्षित जमा करवाया जा सकता है
  • बैंक व्यापारिक बिलों की कटौती करती है
  • एजेंसी के रूप में कार्य करना। 
  • ग्राहकों की आर्थिक स्थिति की जानकारी लेना। 

बैंक खाता क्यों जरूरी है?  – Bank khata kyu zaruri hai

आज आप चाहे किसी भी क्षेत्र में हो, हर वर्ग के लिए बैंक खाता होना आवश्यक है। आज के डिजिटल युग में ऑनलाइन पेमेंट और बहुत सारी तकनीकी सुविधाएं आ गई है। जिससे इंस्टेंट पेमेंट हो जाता है। लेकिन उसके लिए बैंक खाता का होना आवश्यक है। चलिए आगे हम जानते हैं कि बैंक खाता क्यों जरूरी है?

  • आजकल पेमेंट के लिए बहुत सारी ऑनलाइन सुविधाएं उपलब्ध है, जिससे कि आसानी से किसी भी दुकान या किसी भी जगह पर पेमेंट किया जा सकता है, लेकिन इसके लिए बैंक खाता बनवाना जरूरी हो जाता है। 
  • बैंक खाता होने से आपको सरकारी योजनाओं के तहत धन प्राप्त करने में सहायता मिल सकती है। योजनाओं के तहत डायरेक्ट आपके बैंक अकाउंट में पैसा ट्रांसफर कर दिया जाता है। 
  • नकद पैसों को संभाले रखना मुश्किल होता है। हर बार हिसाब को याद रखना भी मुश्किल होता है और यदि हम बैंक खाते के माध्यम से खरीदारी करते हैं तो उसके रिकॉर्ड भी सुरक्षित रहते हैं। 
  • घर पर हम नगद पैसों को सुरक्षित नहीं रख सकते हैं इसी से चोरी का खतरा बना रहता है और यदि हम बैंक में पैसा जमा करवा देते हैं तो वह सुरक्षित रहता है
  • बैंक अकाउंट आपको पैसा बढ़ाने में भी मदद करता है। बैंक 4 से 6% ब्याज देता है। 
  • बैंकों में लोन की सुविधा भी आसानी से प्रदान करता है। बैंक अकाउंट होना सुविधा तो प्रदान करती ही है, इसके अलावा कई सारी छूट भी देती है। 

इन सबके अलावा यह भी बहुत जरूरी है, कि आप अपनी आवश्यकताओं के लिए सही बैंक खाता चुनें। 

अगर आपके पास बैंक खाता नहीं है, तो यह नुकसान हो सकता है।

अगर आपके पास बैंक खाता नहीं है तो यह आपके लिए नुकसानदायी हो सकता है। यदि आपके पास  बैंक खाता नहीं है तो आप बहुत सारी सुविधाओं से वंचित रह सकते हैं। 

  • आप ऑनलाइन भुगतान नहीं कर पाएंगे, क्योंकि वर्तमान में सभी जगह पर ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा उपलब्ध है। 
  • बैंक खाता नहीं होने के कारण आप सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं उठा पाएंगे। 
  • बैंक अलग-अलग तरह के लोन देती है लेकिन अगर आपके पास बैंक अकाउंट नहीं है तो उसका लाभ आप नहीं उठा पाएंगे। 
  • अगर आपके पास ज्यादा पैसा है। तो चोरी का भी डर रहता है, लेकिन बैंक अकाउंट होने से आप उस पैसे को बैंक में जमा करवा सकते हैं और उपयोगी आभूषण और दस्तावेज भी सहेज सकते हैं। 

बैंक खाता खोलने के फायदे – Bank Account Benefits in hindi

जैसे जैसे समय के साथ सारी चीजों में बदलाव देखने को मिल रहा है वैसे-वैसे बैंकों में भी परिवर्तन आया है। पहले बैंकों में सिर्फ लोन दिया जाता था और पैसा जमा किया जाता था। परंतु आज बैंक बहुत सारी सुविधाएं ग्राहकों को प्रदान करती है तो देखते हैं कि बैंक खाता खोलने के फायदे क्या हो सकते हैं। 

  • बैंक में आप अपने अकाउंट में पैसे जमा करवा सकते हैं। 
  • बैंक से आप मोबाइल बैंकिंग की सुविधा ले सकते हैं और इंटरनेट बैंकिंग भी यूज कर सकते हैं। 
  • बैंक में जमा किया हुआ पैसा आप एटीएम की सुविधा से निकाल सकते हैं। 
  • मनी ट्रांसफर, मोबाइल रिचार्ज और सभी बिलों का भुगतान भी आप बैंक के द्वारा कर सकते हैं। 
  • बैंक आपको लॉकर की सुविधा भी प्रदान करता है। जिसमें आप आभूषण और जरूरी सामान रख सकते हैं। 
  • बैंक के द्वारा लोन भी प्रदान किया जाता है। 
  • बैंक चेक बुक की सुविधा भी प्रदान करता है जिससे कि बिना कैश दिए पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं। 
  • अगर आप बिजनेस करना चाहते हैं।  तो क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं और क्रेडिट कार्ड से बिल पेमेंट और शॉपिंग भी की जा सकती है। 

बैंक खाते के प्रकार

बैंक में खाते 5 प्रकार के होते है, यदि आप अपने निजी कार्य के लिए बैंक का अकाउंट खुलवाना चाहते हैं, तो सभी प्रकार के अकाउंट की जानकारी कुछ इस प्रकार है: –

(i) चालू खाता (current account)  

  • चालू खाता ऐसा खाता होता है, जो व्यापारिक लेन-देन के लिए खुलवाया जाता है। 
  • अगर आप व्यापारी है और रोज लाखों का लेनदेन होता है, तो आपके पास करंट अकाउंट का होना बहुत आवश्यक है। 
  • इसकी कोई लिमिट नहीं होती है। 
  • करंट अकाउंट में जमा राशि पर ब्याज नहीं मिलता है। 

(ii) बचत खाता (saving account) 

  • यह ऐसा अकाउंट होता है, जिसमें जमा राशि पर आपको ब्याज दिया जाता है। 
  • इसमें आपका पैसा सुरक्षित रहता है। 
  • बचत खाते में आप व्यक्तिगत खाता और जॉइंट खाता भी खुलवा सकते हैं। 

(iii) सावधि जमा खाता (fixed deposit account) 

  • सावधि जमा खाते में पैसों को निवेश किया जा सकता है। 
  • जमा राशि पर बैंक द्वारा ब्याज प्राप्त होता है। 
  • इसमें ब्याज दर 4 से 11% होती है। 

(iv) आवर्ती जमा खाता (recurring deposit account) 

  • आवर्ती जमा खाता निवेश के लिए एक बहुत ही अच्छा विकल्प है। 
  • इसमें निश्चित जमा राशि निश्चित समय के लिए जमा करनी होती है। 
  • RD की लिमिट पूरी हो जाने के बाद इस पर अच्छा ब्याज मिल जाता है। 

(v) बुनियादी बचत खाता (No frill account) 

  • इसको जीरो बैलेंस अकाउंट भी कहा जाता है। 
  • इस जीरो बैलेंस के साथ खोल सकते हैं। 
  • इसमें कोई न्यूनतम बैलेंस रखने की आवश्यकता नहीं होती है। 
  • इसमें प्रतिदिन ₹5000 निकालने की सीमा होती है। 

बैंक में खाता कैसे खोलते हैं?  – Bank me khata kaise khulta hai

बैंक में खाता खोलने के लिए सबसे पहले हमें यह डिसाइड करना होता है कि हमें कौन सी बैंक में खाता खुलवाना है? इसके बाद यह देखा जाता है, कि हमें किस प्रकार का बैंक खाता खोलना है। बैंक में खाता कैसे खोलें? इसकी जानकारी और प्रक्रिया निम्नलिखित है । 

  • सबसे पहले हमें नजदीकी बैंक में जाना होगा। 
  • बैंक में अलग-अलग काउंटर बने होते हैं। हमें पता करना होगा कि नया खाता कहां पर खोला जाता है। 
  • जब आप काउंटर पर पहुंच जाएं। तब उपस्थित व्यक्ति से नया बैंक अकाउंट खुलवाने के बारे में बात कर सकते हैं और इससे संबंधित जानकारी भी ले सकते हैं। 
  • आगे की प्रक्रिया में आप हेल्प डेस्क पर बैंक अकाउंट का रजिस्ट्रेशन फॉर्म ले सकते हैं। 
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म मिल जाने के बाद आपको इसमें पूछी गई इंफॉर्मेशन को सावधानी से भरना है। 
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर जाने के बाद में इसके साथ हमें कुछ डॉक्यूमेंट अटैच करने होंगे जैसे कि पैन कार्ड, आधार कार्ड, एड्रेस प्रूफ आदि।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरने के बाद में हमें उस फॉर्म  में हस्ताक्षर करने होंगे। 
  • इसके बाद में रजिस्ट्रेशन फॉर्म को बैंक में जमा करवा देना है। आपका रजिस्ट्रेशन फॉर्म बैंक ऑफिसर द्वारा verify किया जाएगा। 
  • जब वेरिफिकेशन पूरा हो जाएगा तो आपको एक अकाउंट नंबर और उसके साथ पासबुक भी दी जाएगी। 
  • इस तरह से आपका बैंक अकाउंट खोल दिया जाएगा। 

बैंक में खाता खोलने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

जब कोई व्यक्ति अपना बैंक अकाउंट खुलवाता है, तो उसे अपने साथ कुछ डॉक्यूमेंट की जरूरत अवश्य पड़ती है इन्हीं दस्तावेजों के आधार पर बैंक अकाउंट में खाता खोला जाता है। बैंक अकाउंट खोलकर पासबुक उपलब्ध करवाई जाती है। बैंक में खाता कैसे खोलें? इसके डॉक्यूमेंट की जानकारी नीचे दी गई है। 

  • जिस व्यक्ति को अपना बैंक खाता खुलवाना है उसे अपनी पासपोर्ट साइज की फोटो की जरूरत होती है। 
  • इसके बाद अपने पहचान पत्र के लिए आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस इनमें से कोई भी डॉक्यूमेंट होना जरूरी है। 
  • व्यक्ति के एड्रेस के रूप में बिजली का बिल राशन कार्ड आदि पूछे जाते हैं। 
  • बैंक खाता खोलने के लिए व्यक्ति का पैन कार्ड होना जरूरी है। 
  • इसके अलावा आपको अपने मोबाइल नंबर और gmail id भी उपलब्ध करवानी होती है। 

मोबाइल से बैंक में खाता कैसे खोलें

अभी तक हमने यह जाना, कि बैंक में खाता कैसे खोलें? अब हम आगे बात करते हैं कि मोबाइल से बैंक में खाता कैसे खोलें? इसके अलावा हम यह कह सकते हैं कि ऑनलाइन बैंक में खाता कैसे खोला जाता है? 

  • अगर हम मोबाइल की सहायता से अपना बैंक अकाउंट खुलवाने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले जिस बैंक में खाता खुलवाना है, उस बैंक की वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंचने के बाद हमें सेविंग अकाउंट खोलने का एक ऑप्शन दिखाई देगा। इस ऑप्शन पर हमें क्लिक करना होगा। 
  • इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद एक एप्लीकेशन फॉर्म उपलब्ध करवाया जाएगा।
  • एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारी हमें सही तरीके से भरनी होगी। 
  • एप्लीकेशन फॉर्म सही से भरने के बाद हमें अपने डॉक्यूमेंट को स्कैन करके अपलोड करना होगा। 
  • जैसे ही डॉक्यूमेंट स्कैन हो जाते हैं तब हमें सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा। 
  • इसके बाद एप्लीकेशन वेरीफिकेशन प्रोसेस में चला जाएगा वेरिफिकेशन होने के बाद आपका बैंक अकाउंट खोल दिया जाएगा। 
  • इसके बाद मोबाइल में मैसेज के जरिए आपको अकाउंट नंबर का मैसेज मिल जाएगा। 
  • यदि हम केवाईसी करवाना चाहते हैं तो केवाईसी की प्रक्रिया भी ऑनलाइन ही की जा सकती है। 
  • इसके लिए 3 से 4 दिन का समय लगता है और वेरिफिकेशन प्रोसेस पूरा होता है। मोबाइल में मैसेज के जरिए सूचित कर दिया जाता है। 

बैंक अकाउंट कैसे खोले से जुड़े FAQ’s

बैंक में कितने प्रकार के अकाउंट खोले जाते हैं? 

मुख्यतः बैंक में पांच प्रकार के अकाउंट खोले जाते हैं बचत खाता, चालू खाता, आवर्ती जमा खाता, बुनियादी बचत खाता और सावधि जमा खाता। 

भारत में सबसे बड़ा बैंक कौन सा है?

भारत में सबसे बड़ा बैंक एसबीआई है। 

बैंक में खाता खुलवाने के लिए कितने रुपए की जरूरत पड़ती है? 

बैंक में खाता खुलवाने के लिए 1500 से ₹2000 की जरूरत होती है। 

बैंक में खाता कैसे खोला जाता है? 

बैंक में ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीके से खाता खोला जा सकता है।

मोबाइल से बैंक अकाउंट कैसे खोलें?

किसी भी फोन में बैंक की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर अकाउंट खोला जा सकता है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट के द्वारा  बैंक अकाउंट कैसे खोले? के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करवाई गई है। आशा करते हैं कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपको अच्छा लगा हो तो इसे अपने फैमिली और फ्रेंड्स के साथ जरूर शेयर करें। ताकि वे भी इस जानकारी का लाभ उठा पाए। 

Leave a Comment